BJP defense Nitish Kumar and Warning to Upendra Kushwaha – बीजेपी ने किया नीतीश कुमार का किया बचाव, कुशवाहा को बोला- शहीद होने की कोशिश सफल नहीं होगी , Bihar Hindi News

रालोसपा प्रमुख और केंद्रीय राज्यमंत्री उपेन्द्र कुशवाहा की सोमवार को दिल्ली में पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद यादव से हुई मुलाकात को लेकर बिहार में सियासी सरगर्मी तेज हो गई है। बीते कई दिनों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर रहे श्री कुशवाहा को पहली बार भाजपा ने भी सोमवार को खरी-खरी सुनाई है। मध्यस्थता के लिए भाजपा से अपील कर रहे कुशवाहा पर प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने तीखे प्रहार किए हैं।

 
गौरतलब है कि एनडीए में सीट बंटवारे के फार्मूले की घोषणा के बाद से ही कुशवाहा अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहे हैं, लेकिन भाजपा के नेता प्रतिक्रिया देने से बच रहे थे। दूसरी ओर लोजपा ने भी उपेन्द्र कुशवाहा को गठबंधन में मिल बैठकर बातें सुलझाने की नसीहत दे दी है। इस तरह अब बिहार में एनडीए की एकजुटता पर बड़ा सवालिया निशान लगता दिख रहा है। यह भी कहा जा रहा है कि इसके घटक दलों की संख्या यहां चार की जगह तीन ही न रह जाए।

उप मुख्यमंत्री ने उपेन्द्र कुशवाहा को तल्ख जवाब देने के साथ ही मुख्यमंत्री व जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार का बचाव भी किया है। अपने ही गठबंधन एनडीए के घटक दल रालोसपा को जवाब देने के लिए उप मुख्यमंत्री ने ट्वीटर का सहारा लिया। दावा किया कि नीतीश कुमार ने कभी किसी नेता के बारे ‘नीच’शब्द का प्रयोग नहीं किया है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि बतौर प्रत्यक्षदर्शी मैं उस कार्यक्रम में था। सीएम ने नीच शब्द का प्रयोग ही नहीं किया। नाम लिए बगैर उप मुख्यमंत्री ने तंज कसा कि जान-बूझ कर कुछ लोग शहीद बनने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिलेगी। श्री मोदी की इस बेबाक टिप्पणी के बाद एनडीए में अब उपेन्द्र कुशवाहा के एनडीए में रहने को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं। यह भी साफ हो गया कि भाजपा उपेन्द्र कुशवाहा को मनाने के बजाए उनको उन्हीं के रास्ते पर छोड़ देना चाहती है। 

उधर, मीडिया से बातचीत में चिराग पासवान ने उपेन्द्र कुशवाहा के शरद यादव से मुलाकात को अनुचित बताया। कहा कि एनडीए का हिस्सा हैं आप और विपक्ष के नेता से मिल रहे हैं तो यह गलत है। चिराग ने कहा कि जो भी बयान आ रहे, रालोसपा की ओर से ही आ रहे हैं। जदयू से न तो बयान आ रहा न कोई प्रतिक्रिया। पब्लिक डोमेन में कोई भी बात लाने की बजाय उपेन्द्र कुशवाहा जी को गठबंधन में बैठकर उसे सुलझा लेना चाहिए। वहीं, लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद) के उदय चौधरी ने भी उपेन्द्र कुशवाहा के शरद यादव से मुलाकात पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि महागठबंधन में उपेन्द्र कुशवाहा का स्वागत है। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com