Chandni Chowk air is most poisonous in delhi – चिंताजनक : चांदनी चौक की हवा सबसे जहरीली, वायु गुणवत्ता सूचकांक 558 दर्ज, Ncr Hindi News

दिल्ली-एनसीआर में दिवाली से दो दिन पहले ही धुंध की चादर बिछ गई। सोमवार को राजधानी में इस सीजन की सबसे खराब वायु गुणवत्ता दर्ज की गई। भीड़भाड़ के लिए मशहूर चांदनी चौक की हवा सबसे जहरीली रही। यहां वायु गुणवत्ता सूचकांक 558 दर्ज किया गया, जिसे आपात श्रेणी माना जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार, अगले तीन-चार दिनों में वायु गुणवत्ता और खराब होने की आशंका है।

सेहत के लिए घातक: केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक 426 रहा। यहां चौबीस घंटे के भीतर 255 अंकों की बढ़ोतरी दर्ज की गई। वायु गुणवत्ता सूचकांक में 401 से ऊपर के स्तर को गंभीर श्रेणी में रखा जाता है। ऐसी हवा को खासतौर पर सांस व हृदय संबंधी बीमारियों से जूझ रहे लोगों के लिए बेहद घातक माना जाता है। 

सघन इलाकों में खतरा ज्यादा: विशेषज्ञों के मुताबिक, ज्यादा सघन इलाकों में धुंध के कण फंस जाते हैं। यहां पर प्रदूषक कण ज्यादा देर तक ठहरे रह सकते हैं। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों ने प्रदूषण अचानक से बढ़ने के पीछे हवा की दिशा में बदलाव को जिम्मेदार बताया है जो पश्चिमोत्तर क्षेत्र से उत्तर की ओर बह रही है। यह पड़ोसी राज्यों से पराली जलने से उठने वाले धुएं और धूल को ला रही है।

प्रशासन की सख्ती: हवा साफ करने के लिए क्लीन एयर अभियान शुरू किया गया है। 52 से ज्यादा टीमें अभियान चला रही हैं। बीते चार दिनों में प्रदूषण रोकने के नियमों का उल्लंघन करने पर डेढ़ करोड़ रुपये से ज्यादा का जुर्माना वसूल किया गया है। यातायात पुलिस को प्रदूषण जांच के सख्त निर्देश दिए गए हैं।

दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल के थौरेसिस सर्जन श्रीनिवास के. गोपीनाथ के मुताबिक मरीजों के लिए दिल्ली की हवा सजा-ए-मौत की तरह है।

पांच प्रमुख वजहें

– 33% प्रदूषण सोमवार को पराली जलाने की वजह से 

– पश्चिमी विक्षोभ के हिमालय से टकराने से हवा में 80% नमी 

– तापमान में गिरावट से धुंध धुएं से मिलकर स्मॉग बन रहा 

– वाहनों की भारी तादाद पैदा कर रही 40 फीसदी तक प्रदूषण 

– सड़कों पर पानी का छिड़काव नहीं होने से धूल उड़ रही

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com